लखनऊ में शहीद पथ पर चलती ट्रेलर से फाइटर जेट मिराज (Mirage Fighter Plane Tyre) का टायर चोरी हो गया। एयरफोर्स के अधिकारियों ने ट्रेलर को कब्जे में लेते हुए चालक को भी हिरासत में ले लिया है। टायर मध्य वायु कमान का स्टेशन बीकेटी से जोधपुर भेजा जा रहा था। चोरों ने रास्ते में ट्रेलर का रस्सा काटकर वारदात को अंजाम दिया है। इस मामले में आशियाना थाने में ट्रेलर चालक की तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया गया है।

उधर, इसमें किसी देश विरोधी ताकत का हाथ होने की आशंका में एयरफोर्स ने ड्राइवर को हिरासत में लिया है। साथ ही ट्रेलर भी कब्जे में ले लिया है।
लखनऊ के बीकेटी एयरबेस से एक फाइटर जेट के 5 टायर जोधपुर एयरबेस भेजे जा रहे थे।

जाम में फंसा था ट्रेलर…स्कॉर्पियो सवार बदमाशों ने उठाया फायदा
27 नवंबर की रात करीब 2 बजे सेना से संबद्ध ट्रेलर टायर लोड करके निकला। ड्राइवर मायापुर अजमेर निवासी हेमसिंह रावत ने बताया कि शहीद पथ पर SR होटल के पास जाम लगा था।

इसी बीच ट्रेलर के पीछे चल रही ब्लैक स्कॉर्पियो से उतरे 2 लोगों ने रस्सी काटकर 1 टायर उतार लिया। ट्रैफिक की वजह से वह गाड़ी किनारे लगाकर उन्हें पकड़ नहीं पाया। इस बीच स्कॉर्पियो सवार भाग निकले।

खंगाले जा रहे हैं सीसीटीवी फुटेज
हेमसिंह ने इसकी सूचना 112 नंबर पर पुलिस को दी। पुलिस उसे गाड़ी के साथ आशियाना थाने ले गई। यहां संवेदनशील मामला देख रिपोर्ट दर्ज कर छानबीन शुरू की गई। लेकिन चोरों का सुराग नहीं लगा। आशियाना इंस्पेक्टर धीरज शुक्ला का कहना है कि शहीद पथ से लेकर आसपास के सभी रास्तों के CCTV कैमरे खंगाले जा रहे हैं।

दुश्मन की साजिश के तहत चोरी हुआ टायर-सेना
ड्राइवर हेमसिंह बाकी के 4 टायर लेकर 30 नवंबर को जोधपुर एयरबेस पहुंचा। इस पर एयरफोर्स की पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया। उसके ट्रेलर से फाइटर प्लेन के स्पेयर्स का ट्रांसपोर्टेशन होता है। सेना को आशंका है कि किसी दुश्मन की साजिश के तहत टायर चोरी हुआ है।

क्या कह रहे हैं सेना के अफसर
अफसरों का कहना है कि गाड़ी हेमसिंह की है। वह कई साल से सेना से संबद्ध है। एयरबेस और सेना के संवेदनशील परिसरों में उसकी पहुंच रहती है। जिस टायर की प्लेन के अलावा कहीं और उपयोगिता नहीं है। उसका इस तरह चोरी होना संदेह का कारण बन रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here