यूपी के मुरादाबाद के मझोला थानाक्षेत्र के कांशीराम नगर में सेवानिवृत्त सै’न्य कर्मी और आरएसएस कार्यकर्ता राकेश कुमार सिंह (48) की ह’त्या के बारे में बड़ा खुलासा हुआ है।

आरएसएस कार्यकर्ता की ह’त्या उनके ही भाइयों ने जहर देकर की थी। पुलिस ने इस मामले में अब मृत’क के दो फुफेरे भाई व उनके बहनोई के खिलाफ केस दर्ज  किया है।

जानकारी के अनुसार, एयरफोर्स से सेवानिवृत्त होने के बाद राकेश कुमार सिंह प्रॉपर्टी डीलिंग का काम कर रहे थे। वह कांशीराम नगर के आरएसएस के सह नगर कार्यवाह भी थे।  वह अपने परिवार में पत्नी रेनू देवी, एक बेटी खुशी (13) और दो बेटे धैर्य (09) और सहज (04) के साथ खुशी-खुशी रह रहे थे।

14 अक्टूबर की रात वह अपने मौसेरे भाई के साथ बुद्धा पार्क में चल रहे कार्यक्रम में गए थे। वहां से स्कूटी से लौटने के दौरान उनके पीछे बाइक पर राकेश के फुफेरे भाई प्रदीप, नरेश और बहनोई रामवीर आ गए।

आरोप है कि स्कूटी के करीब पहुंचते ही फुफेरे भाइयों ने राकेश के कंधे पर जहर का इंजेक्शन लगा दिया। इससे राकेश की हालत बिगड़ गई। राकेश को इलाज के लिए टीएमयू ले जाया गया जहां उनकी मौ’त हो गई। वहीं जहर का इंजेक्शन लगाने के दौरान जहर के छींटे अरविंद के मुंह में भी चले गए।

जिससे अरविंद की भी तबीयत बिगड़ गई। अरविंद को भी उपचार के लिए साथ ही टीएमयू ले जाया गया । जहां उपचार के दौरान रविवार दोपहर राकेश की मौत हो गई। वहीं अरविंद को उपचार के बाद टीएमयू से छुट्टी दे दी गई।

मझोला थाना प्रभारी जीत सिंह ने बताया कि मझोला के बसंत विहार निवासी प्रदीप, उसके भाई नरेश ओर बहनोई रामवीर सिंह के खिलाफ के जा’नलेवा हम’ला समेत अन्य धाराओं में केस दर्ज कर लिया गया। राकेश के श’व को पो’स्टमार्टम के लिए भिजवा दिया गया है।

पीएम रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। वहीं ह’त्या की धारा बढ़ाई जाएगी। पुलिस का कहना है कि राकेश का अपने फुफेरे भाइयों से 18 लाख रुपये और जमीन को लेकर विवाद चल रहा था। इसी विवाद में आरोपियों ने जहर का इंजेक्शन लगाकर ह’त्या की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here