भारतीय क्रिकेट टेस्ट टीम के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) की एक प्रेस कॉन्फ्रेंस चर्चा का विषय बनी हुई है। कोहली ने इसमें बताया था कि उन्हें वन-डे की कप्तानी (One Day Captaion) को लेकर पहले से कुछ नहीं बताया गया था। मीटिंग से डेढ़ घंटा पहले ही उन्हें इस बारे में जानकारी दी गई थी। दूसरी तरफ, बीसीसीआई (BCCI) का कहना था कि इस बारे में विराट कोहली को पहले ही सूचित कर दिया गया था। कप्तान और बोर्ड के बीच चल रहे घमासान के बीच सोशल मीडिया (Social Media) पर अलग-अलग तरह की प्रतिक्रियाएं आ रही है।

डायरेक्टर विनोद कापड़ी (Vinod Kapri) ने हाल ही में एक तस्वीर ट्विटर (Twitter) पर साझा की है। तस्वीर में बीसीसीआई सचिव जय शाह (BCCI Cheaf Jay Shah) कुर्सी पर बैठे हुए हैं और उनके साथ बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली (Saurav Ganugly), राजीव शुक्ला (Rajiv Shukla) समेत अन्य लोग खड़े हुए हैं। कापड़ी ने तस्वीर शेयर करते हुए अपने ट्वीट में लिखा, ‘सवाल लगातार पूछा जाना चाहिए। सौरव गांगुली उम्र में भी बड़े हैं, पद में भी और कद में भी, इसके बावजूद सौरव गांगुली क्यों खड़े हुए हैं? जय शाह क्यों बैठे हैं?’

अन्य ट्वीट में सौरव गांगुली ने लिखा, ‘ये शर्मनाक तस्वीर भारतीय क्रिकेट (Indian Cricket Team) के पतन की शुरुआत की तस्वीर है। जय शाह (Jay Shah) की योग्यता बस इतनी है कि वो अमित शाह का बेटा है। भारत के महान कप्तानों में से एक सौरव गांगुली हाथ जोड़े खड़े हैं पर जय शाह… इन सबने मिलकर अभी हाल ही में महान बल्लेबाज़ विराट को कप्तानी से हटाया है।’

वरिष्ठ पत्रकार प्रणव सिरोही ने विनोद कापड़ी को जवाब देते हुए लिखा, ‘जब पदाधिकारियों ने दायित्व संभाला था तो सभी लोग बारी-बारी से एक दूसरे के चैंबर में गए थे और फोटो सेशन कराया था। अपने-अपने चैंबर में सभी बैठे थे। मगर फेक न्यूज पेडलर्स को तो अपने एजेंडा वाली फोटो ही भाती है। काश कि जागिंग से स्मरण शक्ति और बुद्धि भी बढ़ा करती।’

कांग्रेस नेता संजय झा ने लिखा, ‘एक सवाल जो कोई नहीं पूछेगा, मैं ही पूछ लेता हूं- गृह मंत्री अमित शाह का बेटा होने के अलावा जय शाह की योग्यता क्या है जो वह बीसीसीआई का हिस्सा बने बैठे हैं?’ फिल्ममेकर अशोक पंडित ने संजय झा को जवाब देते हुए ट्वीट किया, ‘एक सवाल मैं भी पूछना चाहता हूं- शरद पवार और राजीव शुक्ला की क्या योग्यता थी? इंदिरा गांधी का बेटा होने के अलावा राजीव गांधी की क्या योग्यता थी? सोनिया गांधी की क्या योग्यता है जो वो कांग्रेस अध्यक्ष बनी बैठी हैं। अब राहुल गांधी के बारे में तो बोलना ही मत।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here