Mumbai Crime News: अंधेरी स्थित दीपा डांस बार (Deepa Dance Bar) पर मुंबई पुलिस की सामाजिक सेवा शाखा ने छापा मारा। अधिकारी उस समय हैरान रह गए जब देखा कि तहखाने में बार बालाओं (Bar Girls) को रखा गया था। दीपा डांस बार से 17 बार बालाओं को हिरासत में लिया गया। छापेमारी के दौरान बार के मैनेजर और कैशियर सहित 3 स्टाफ पर अंधेरी पुलिस स्टेशन में ही FIR दर्ज कर ली गई है.

पुलिस को जिस्मफरोशी का शक था. वहीं, लड़कियों को दीवार में बने तहखाने में छुपाया गया था. पुलिस के अनुसार एक NGO की शिकायत पर कार्रवाई की गई. इस दौरान लोकल थाने की पुलिस को इस रेड की भनक तक नहीं लगी. एक NGO की तरफ से ये शिकायत की गई थी कि कोरोना काल में भी इस डांस बार मे खुले आम नियमो का उल्लंघन हो रहा है.

इसी के साथ ही पुलिस के नियम के मुताबिक बार मे खुले आम बार डांसर्स के ठुमके लगते है और रोजाना सैकड़ो लोग इन बार डांसर्स पर लाखों रुपए लुटाने भी आते है. यह बार नियमो के खिलाफ चल रहा था, और पूरी रात चलता था. हालाँकि स्थानीय अंधेरी पुलिस को कभी इसकी भनक तक नही लगी. ऐसे में सोशल सर्विस ब्रांच की टीम बीते शनिवार रात लगभग साढ़े 11 से 12बजे के करीब रेड मरने के लिए पहुंची.

बता दें कि मुंबई में डांस बार पर पाबंदी हटने के बाद से केवल चार लड़कियों के काम करने की अनुमति है, हालाँकि ऑर्केस्ट्रा के नाम पर यहाँ 4 से अधिक लड़कियों से डांस कराया जाता है. पुलिस के छापे के डर से इन लड़कियों को एक खुफिया तहखाने में छिपा दिया गया था.

हालाँकि इस दौरान जब पुलिस की पूरी टीम और NGO पहुंची तो सभी के होश उड़ गए और इसी बीच NGO की टीम के लोग मेकअप रूप में गए, वहां उनकी नजर दीवार में लगे शीशे पर अटक गई, क्योंकि ये आम शीशा नही था बल्कि आम शीशे से काफी बड़ा था. ऐसे में उस शीशे को हटाने के बाद सारी लड़कियां तहखाने में मिली. इसमे कुल 17 बार डांसर्स को छुपा कर रखा गया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here