Sachin Gehlot

कांग्रेस के अध्यक्ष पद को लेकर तमाम खबरें मीडिया में हैं और अब यह मुद्दा पेचीदा होता जा रहा है. पहले खबर आई थी कि अशोक गहलोत कांग्रेस के अध्यक्ष पद के लिए नामांकन करेंगे. उसके बाद शशी थरूर को लेकर भी खबर आई. फिर कहा गया कि दोनों के बीच मुकाबला होगा. लेकिन अब ऐसी खबरें आ रही हैं कि दिग्विजय सिंह की भी एंट्री हो सकती है, हालांकि इसको लेकर अभी तक कोई पुष्टि नहीं हुई है. लेकिन दिग्विजय सिंह ने एक इंटरव्यू में यह कंफर्म किया है कि राहुल गांधी अध्यक्ष नहीं बनेंगे.

राहुल गांधी अध्यक्ष पद के लिए नामांकन नहीं करेंगे और राहुल गांधी अध्यक्ष नहीं बनने जा रहे हैं यह लगभग स्पष्ट हो चुका है. अब अध्यक्ष कौन बनेगा इसको लेकर तमाम तरह के कयास लगाए जा रहे हैं. खबरें आ रही हैं कि राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत मुख्यमंत्री भी बने रहना चाहते हैं और इसके साथ वह अध्यक्ष का पद स्वीकार करना चाहते हैं. लेकिन कांग्रेस के अंदर एक पद वाला फार्मूला उनके आड़े आ रहा है. इसके अलावा मीडिया में ऐसी भी खबरें चल रही है कि वह किसी भी कीमत पर सचिन पायलट को मुख्यमंत्री नहीं बनने देना चाहते हैं.

दिग्विजय सिंह ने एक इंटरव्यू में यह कंफर्म किया है कि अगर अशोक गहलोत जी अध्यक्ष बनते हैं तो उन्हें मुख्यमंत्री पद छोड़ना पड़ेगा. लेकिन अशोक गहलोत के पिछले कुछ बयानों पर अगर गौर किया जाए तो मुख्यमंत्री पद का मोह उनसे छूटता हुआ नजर नहीं आ रहा है. ऐसे में यह स्पष्ट है कि इतनी आसानी से कांग्रेस के अंदर उलझी हुई यह गुत्थी सुलझने वाली नहीं है. दूसरी तरफ राहुल गांधी भारत जोड़ो यात्रा पर हैं सचिन पायलट भी इस यात्रा में शामिल हुए हैं.

सचिन पायलट के समर्थक सचिन पायलट को राजस्थान का अगला मुख्यमंत्री बनाए जाने की मांग कर रहे हैं. सचिन नपे तुले शब्दों में मीडिया के बीच बयानबाजी कर रहे हैं. सचिन पायलट ने इस बीच बयान दिया है कि पिछले विधानसभा चुनाव जीतने के बाद जिस तरह सोनिया गांधी के निर्णय का पालन सभी लोगों ने किया था. ठीक उसी तरह इस बार भी कुछ नहीं बदला है, सोनिया गांधी जो निर्णय लेंगे वह सभी को मानना होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here