सोशल मीडिया पर कुछ तस्वीरों का एक कोलाज जमकर वायरल हो रहा है. कोलाज में मुस्लिम टोपी पहने एक आदमी एक लड़की के साथ आपत्तिजनक हरकतें करता दिख रहा है. कोलाज के साथ दावा किया गया है कि मौलवी साहब मदरसे में छात्रा के साथ अश्लीलता कर रहे हैं।

फोटो कोलाज को पोस्ट करते हुए सोशल मीडिया यूज़र्स लिख रहे हैं, “मदरसे में मौलवी साहब सलमा को कलमा पढ़ाते हुए बंद करो ये मदरसे जो अश्लीलता वेश्यावृत्ति के अड्डे बन गये हैं साधु संतो पर टिप्पणी करने वाले इस विषय अपना मुंह खोलें।”.

ये तस्वीरें एक बांग्लादेशी शॉर्ट फिल्म से ली गई हैं जिनका वास्तविकता से कोई संबंध नहीं है. इस भ्रामक पोस्ट को फेसबुक और ट्विटर पर हजारों यूजर्स पोस्ट कर चुके हैं. वायरल पोस्ट का आर्काइव यहां देखा जा सकता है।

इन तस्वीरों को यांडेक्स सर्च इंजन पर रिवर्स सर्च करने पर हमें ‘anna bala’ नाम का एक वेरिफाइड बांग्लादेशी यूट्यूब चैनल मिला. इस यूट्यूब चैनल पर वायरल तस्वीरों से जुड़ा एक वीडियो मौजूद था जिसे सितंबर में अपलोड किया गया था।

वीडियो के टाइटल के मुताबिक, ये यौन शोषण और यौन अपराध को लेकर बनाई गई एक शॉर्ट फिल्म है. शार्ट फिल्म बांग्ला भाषा में है. वीडियो की शुरुआत में कुछ सेकंड बाद ही वायरल कोलाज वाला हिस्सा देखा सकता है. यहां साफ हो जाता है कि तस्वीरों को इसी शॉर्ट फिल्म से लिया गया है.

यूट्यूब चैनल पर दी गई जानकारी के मुताबिक, इस चैनल पर अलग-अलग अपराधों को लेकर काल्पनिक वीडियो अपलोड किये जाते हैं जिनसे लोगों को सतर्क किया जा सके.

खोजने पर ये भी सामने आया कि इस वीडियो को कुछ महीनों पहले भी यूट्यूब पर साझा किया जा चुका है. पड़ताल में इस बात पुष्टि हो जाती है कि वायरल पोस्ट भ्रामक है. ये तस्वीरें किसी असली घटना की नहीं हैं. इन्हें एक फिल्म से लिया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here